Khana Khane Ka Tarika Aur Samay

khana khane ka tarika

कुदरत ने बहुत सी चीजें खाने पीने के लिए इस दुनिया में उतारी हैं , जिनसे हम पेट भरते हैं , लज्ज़त ( स्वाद ) लेते हैं , उनसे आनंदित होते हैं ,

मगर क्या आप सभी जानते है की कई बार | Khana Khane Ka Tarika ,और khana khane ka time , ग़लत हो जाए तो कई तरह की बीमारियो जैसी मुसीबत आ सकती है।

ये भी देखे : Khana Khane Ki Dua

Khana Khane Ka Sunnat Tarika Video

सेहत पे असर

अच्छी सेहत का राज़ ही खाना खाने का तरीका | Khana Khane Ka Tarika और सही टाइम पर खाने में छुपा होता है , वैसे तो ये बहुत आसान सा काम है मगर इसमें लापरवाही आपको छोटी बड़ी मुसीबत में डाल सकती है .

ये भी पढ़े :- सूरह यासीन

जब सही तरीकों और सही समय पर हम खाना खाएंगे तो बिमारियों से भी बचे रहेंगे और सेहत भी बनी रहेगी इसलिए खाना खाने का तरीका | Khana Khane Ka Tarika जानना बहुत ही ज़रूरी है

खाना खाते हुए बैठने का तरीका

सबसे पहले हमें जानना होगा की खाना खाने का तरीका | Khana Khane Ka Tarika में हमें खाना खाते समय हमें बैठना कैसे है ,

अगर ग़लत तरीके से बैठे रहे तो मोटापा जैसी बीमारी जल्दी पकड़ लेंगी , जब भी खाना खाने बैठे तो ज़मीन पर बैठ कर खाए , और पैरों को फैला कर न बैठे, कोशिश करे कि पैरों को सिकोड़ कर बैठे ,

इस तरह खाने से मोटापा का चांस बहुत कम हो जाता है , पुराने ज़माने में कुर्सी मेज़ टेबल पर लोग नही खाते थे इसलिए खाने पीने से उन्हें कभी मोटापा नही होता था .

ये भी देखे : Tasbeeh and Janamaz

khana khane ka time table

Khana Khane Ka Tarika Aur Samay 1
khana khane ka time table

नाश्ता करने का सही टाइम

ये ज़रूरी नहीं की हरदम खाया ही जाए, सबको अपनी आदत के हिसाब से खाना चाहिए, नाश्ता अगर कर रहे हैं तो हल्का नाश्ता करें जैसे दूध अंडा ब्रेड चाय ,

तली हुई चीज़े जैसे पराठा ,छनी हुई पूड़ी ना खाए , सुबह के समय ये सब खाने से हमारी सेहत पर बुरा असर पड़ता हैं इसलिए ये सब ना खाए , नास्ता करने का सही समय क्या है ?

  • सुबह उठने के कम से कम 10 मिनट बाद ही नास्ता करना चाहिए

ये भी देखे : Kalma in Hindi

  • नास्ता करने का सही समय सुबह 7 से 8 बजे तक माना जाता है।
  • सही तरीका तो ये है की सुबह 10 बजे तक नास्ता कर लेना चाहिए।

दोपहर का खाना का सही टाइम

दोपहर का खाना और सुबह के नाश्तो में इतना फासला ज़रूर रखें की नाश्ता हज़म हो चूका हो और भूख लगी हो , ये खाना खाने का तरीका | Khana Khane Ka Tarika नहीं की ,

सुबह 11 बजे नाश्ता किया और 1 बजे फिर बैठ गए खाना खाने लगे , इस तरह हाज़मा ख़राब हो जाएगा .

और बहुत लोगो की आदत है 10 -11 बजे नाश्ता करके फिर सीधे रात में खाते हैं , ये भी बहुत अच्छी बात है . अक्सर ऐसे लोगो में मोटापा और पेट से जुड़ी बीमारियां कभी नहीं होती।

ये भी देखे : Astaghfirullah Dua in Hindi

दोपहर में खाने में हमेशा हल्का खाना खा लेना चाहिए क्युकी भारी खाना खाने से सुस्ती आ जाती है , इसलिए खाने में ऐसी चीज़ें खाए जिससे मजबूती मिले और जो हमारी सेहत के लिए फायदेमंद हो।

हमारी सेहत हमारे Khana Khane Ke Tarika पर भी निर्भर करती है।

  • दोपहर का खाना नास्ते के कम से कम 4 घंटे के बाद ही खाये।
  • दोपहर का खाना शाम को यानी की 4 बजे नहीं खाना चाहिए।
  • दोपहर का खाना खाने के बाद कम से कम 30 मिनट तक लेटना चाहिए।

ये भी देखे : Safar Ki Dua

रात का खाना

रात का खाना हमेशा हल्का होना चाहिए खाना खाने के बाद सिर्फ़ सोना होता है जिसमे ज्यादा एनर्जी की जरूरत नही होती है , तली हुई चीज़े तो वैसे ही बहुती नुकसानदायक हैं ,

मगर रात में बिलकुल नहीं खाना चाहिए , दाल सब्जी रोटी चावल या इस जैसे हल्के खाने खाएं

याद रखें खाना खाने का तरीका | Khana Khane Ka Tarika यही है की जब भी खाए तो भरपेट खाना न खाए , हमेशा इतना खाना खाये की पानी और कुछ चीज़ो के लिए जगह बची रहे।

  • रात का खाना 7 :30 बजे तक खा लेना चाहिए
  • रात का खाना सोने से 3 घंटे पहले ही खा लेना चाहिए।
  • रात का खाना खाने के बाद कम से कम 10 मिनट तक टहलना चाहिए।

सोने से पहले

सोने से पहले अगर कोई जूस या दूध ले लेंगे तो अच्छा है , वरना कोई ज़रूरी नही ये , क्यूंकि ये चीजें जेब पर असर डालेगी , इसलिए किफायत (Saving) के साथ काम करना चाहिए

पानी कितना पीयें

अक्सर लोग खाना खाते हुए ख़ूब पानी पीते हैं या खाने के बाद ख़ूब पानी पीते हैं जो बहुत ग़लत बात है और ये खाना खाने का तरीका| Khana Khane Ka Tarika भी नहीं है ,

ये भी देखे : Namaz Ke Baad Ki Dua

इससे बहुत नुकसान होगा, खाना ठीक से पचेगा नहीं और मोटापा , बद-हज़मी जैसी बीमारियां पकड़ लेंगी और ये सुन्नत के हिसाब से भी गलत तरीका है , खाना खाते हुए बहुत थोडा सा पानी पिए अगर ज़रूरत हो तो,

और खाना खाने के बाद भी बस इतना पानी पिए की मुह और हलक साफ़ हो जाए, फिर आधा एक घंटा बाद जितना मर्ज़ी पानी पीये .ये सुन्नत के हिसाब से खाना खाने का सही तरीका है।

खाना खाने का इस्लामी तरीका

खाना खाने का तरीका | Khana Khane Ka Tarika में अगर हम खाना इस्लामिक तरीकों से खाए तो हमें दुनिया में भी फायदा होगा और सुन्नत भी अदा हो जाएगी ,जब हम सुन्नतों को अदा कर रहे होते हैं तो वो भी इबादत में शुमार में होती है ,

तो जब हम सुन्नत तरीको से खाएंगे तो हमारा खाना ,खाना भी इबादत में शुमार हो जाएगा , कितनी अच्छी बात है की खाना खाने का तरीका | Khana Khane Ka Tarika से भी खा रहे हैं

सुन्नत भी अदा हो रही है पेट भी भर रहा है और अज्र भी मिल रहा है।

आइए हम जानते है की खाना खाने की सुन्नते। khana khane ki sunnate कौन कौन सी है और तरीकों को सीखते हैं –

ये भी पढे :- उधार लेन देन कैसे करें

Khana Khane Ka Sunnat Tarika

  • खाना खाने का सुन्नत तरीका ये भी है की खाना खाने से पहले दोनों हाथ ख़ूब अच्छे से धो लेना चाहिए .
  • खाना खाने का मसनून तरीका ये भी है की खाने से पहले बिस्मिल्लाह पढ़ें
  • खाना खाने का इस्लामी तरीका ये है की दाहिने हाथ यानि ( Right hand ) से खाना खाना चाहिए
  • खाना खाने का आदाब ये भी हैं की आराम से छोटे छोटे लुकमे ख़ूब इत्मीनान से चबा के खाए .
  • खाना खाने की हदीस है की खाना खाते हुए बात ना करें , जबतक कोई बहुत ज़रूरी बात न हो
  • खाना खाने की हदीस ये भी है की खाना में कुछ कमी रह गयी हो जैसे की नमक, मसाले तो खाने की बुराई नहीं करनी चाहिए , क्युकी ये खाना खाने का तरीका | Khana Khane Ka Tarika नहीं है
  • दस्तरख्वान बिछा कर खाए
  • अगर खाते हुए कुछ दस्तरख्वान पे गिर जाए तो उसको उठा के खा लेना चाहिए .
  • टेक लगा कर ना खाए
  • खाना खाने का तरीका | Khana Khane Ka Tarika ये है की खाने के बाद कभी भी खाने की प्लेट में हाथ नहीं धोना चाहिए .
  • खाना खाते हुए पानी दाहिने हाथ से पीयें ,

ये भी देखे: Surah Ikhlas in Hindi

खाने से पहले बिस्मिल्लाह ( ﷽ ) पढना

कोई भी काम शुरू करना हो उसमे सबसे पहले हमें बिस्मिल्लाह ( ﷽ ) पढना चाहिए इसलिए खाना खाने से पहले बिस्मिल्ला (  ﷽  ) ज़रूर पढ़े ,

अगर हम ये नहीं पढेंगे तो सुन्नत भी अदा ना हुई कोई इबादत भी ना हुई बस खा लिए बात ख़त्म , ये बहुत ग़लत बात है , इसलिए खाना खाने का तरीका | Khana Khane Ka Tarika में सबसे पहले बिस्मिल्लाह पढ़े .

खाना खाने की दुआ

बिस्मिल्ला करने के बाद जब खाना शुरू करे तो ये दुआ पढ़ लेना चाहिए , अगर नहीं भी पढ़े तो कोई बात नहीं मगर पढ़ लेंगे तो अच्छी बात है

khana shuru karne ki dua ,khane ki dua , khana khane ka tarika
खाना शुरू करने की दुआ

अगर शुरू में बिस्मिल्लाह (  ﷽   ) भूल जाए तो

इंसान गलतियों का पुतला है , गलतियाँ हो जाती हैं इसलिए कभी ज्यादा थकान परेशान मशगुली ( busy) में इन्सान शुरू में बिस्मिल्लाह पढना भूल जाता है ,

ये कोई गुनाह नही है की भूल जाए , मगर जब भी याद आ जाए तो बिस्मिल्लाह (  ﷽   ) पढ़ लेना चाहिए या फिर ये दुआ पढ़ ले

bismillah bhool jae to , khanae khane ka tarika , khana khane ki dua
अगर शरू में बिस्मिल्लाह पढना भूल जाए तो ये दुआ पढ़े

खाना खाने के बाद की दुआ

खाना अल्लाह ताला की दी हुई अज़ीम नेमतों में से एक है दुनिया में लाखों लोग हैं जिन्हें भरपेट खाना नसीब नहीं होता है , या शायद मिलता भी नही खाने को ,और ऐसे हालात में दुनिया में जब हमें अच्छा खाने को या पेट भरने को खाना मिल जाए

तो हमें अपने रब का दिल से शुक्रिया अदा करना चहिए की उसने हमें अपनी अज़ीम नीमत से नवाज़ा , इसलिए हमे अल्लाह का शुक्र अदा करना चाहिए या अल्हम्दुलिल्लाह ( الحمدللہ ) कहना चाहिए , थोड़ा और खूबसूरती से सुन्नत तरीकों से शुक्र अदा करना चाहे तो ये दुआ पढ़ लेना चाहिए ,

याद रखे हम जब भी अल्लाह की किसी नेमत का शुक्र अदा करेंगे तो वो हमें और देगा ( ان شاءاللہ ) और यही चीज़ खाना खाने का तरीका | Khana Khane Ka Tarika भी है .

( वल्लाहु आलम )

ये भी पढ़े : Surah Kafirun in Hindi

पानी पीने की सुन्नत

पानी पीने की 5 सुन्नते हैं , जब भी पानी पीये इन्ही सुन्नतों के साथ पीये , और दूसरों को भी इन छोटी छोटी सुन्नतों के बारे में बताए .

  • बिस्मिल्लाह पढ़ कर शुरू करना
  • बैठ कर पीना
  • दाहिने हाथ से पीना ( Right Hand )
  • तीन सांस में आराम से पीना
  • पीने के बाद अल्हम्दुलिल्लाह कहना

Leave a Reply

Your email address will not be published.