बैतुलखला की दुआ इन हिंदी इंग्लिश अरबी और उसकी सुन्नतें

Toilet Jane-Aur Nikalne Ki Dua

क्या आप बैतूल खला जाने और निकलने की दुआ सीखना चाहते हो? तो आज हम इस पोस्ट में जानेंगे कि टॉयलेट [बैतूल खला] में जाने और उससे बाहर निकलने की दुआ कौन-कौन सी है।

बैतुलखला के अंदर जाने की दुआ इन हिंदी

Toilet Jane Aur Nikalne Ki Dua hindi me

हिंदी में दुआ : अल्लाहुम्मा इन्नी अऊज़ुबिका मिनल खुबूसी वल खबाइस।
तर्जुमा : ए अल्लाह मैं आपसे तमाम शयातीन (मर्द या औरत) से पनाह मांगता हूं।

यह भी देखे : Taraweeh Ki Dua

बैतुलखला के अंदर जाने की दुआ इन अरबी

اَللّٰہُمَّ اِنِّیْ اَعُوْذُبِکَ مِنَ الْخُبُثِ وَالْخَبَآئِثِ۔

اے اللہ !میں آپ کی پناہ پکڑتا ہوں تمام شیاطین (مردوں اورعورتوں) کے شرسے۔

बैतुलखला के अंदर जाने की दुआ इन इंग्लिश

Toilet Jane Aur Nikalne Ki Dua English me

Allahumma Inni Aoozubika Minal Khubusi Wal Khabais.

O Allah (Almighty) I seek your refuge from impure Jinnat (male and female)

ये भी पढ़ें : रोज़ा खोलने की नीयत

बैतुलखला से बाहर निकलने की दुआ

इस भाग में हम बैतुलखला से बाहर निकलते वक़्त की दुआ को कई भाषा में और आखिरी में कुछ ज़रूर बातें भी बताएंगे।

बैतुलखला से बाहर निकलने की दुआ इन हिंदी

Toilet Jane Aur Nikalne Ki Dua

हिंदी में दुआ : अल्हम्दुलिल लाहिल लज़ी अज़्हबा अन्निल अज़ा व अफ़ानी।

तर्जुमा : अल्लाह पाक का बहुत शुक्रिया है जिसने मुझसे अयेजा देने वाली चीज दूर की और मुझे चैन-सुकून दिया।

बैतुलखला से निकलने की दुआ इन इंग्लिश

Toilet Jane Aur Nikalne Ki Dua

Alhamdulillahil lazi azhaba annil azaa wa-aafani.

All praise for Allah for helping remove painful elements and make me feel comfortable.

बैतुलखला से निकलने की दुआ इन अरबी

اَلٌحَمٌدُ لِلّٰہِ الَّزِیٌ اَزٌھَبَ عَنّیِ الٌاَزٰی وَعَا فَانِیٌ۔

سب ثعریفیں اللّٰه ہی کے لے ہیں جس نے مجھ سے آزاد یت دور کی اور مجھے عافیت دی۔

बैतुलखला के वक़्त इन सुन्नति बातों का ख्याल रखें।

  1. जूता चप्पल पहन कर जाना
  2. बैतुल खला के अंदर जाते वक्त पहले जाते वक्त की दुआ पढ़े और बायां पैर अंदर रखें।
  3. पेशाब या पाखाना करते समय किब्ला (West) की तरफ़ मुंह या पीठ न रखे रखें।
  4. बैतूलखला में मोबाइल चलाने और बातें करने से बचें।
  5. बैतुलखला से बाहर निकलते वक्त निकलते वक्त की दुआ पढ़े दाया पैर बाहर रखें।
  6. इस्तेंजा करने के बाद उसे पानी से बाए हाथ से अच्छे से धुएं।
  7. दोनों हाथों का धोना

इस आर्टिकल में हमने आपको बैतूल खला जाने और निकलने की दुआ हिंदी में और तर्ज़ुमा के साथ बताया है उम्मीद है आपको पढ़कर अच्छे से समझ आ जाये।

ये भी पढ़े : Kalma in Hindi

इसी के साथ ही अगर हमसे कही कोई गलती हो गयी हो तो आप हमे कमेंट करके बता सकते है जिससे हम उस गलती को सुधार सके। इस आर्टिकल को आप अपने दोस्तों और जानने वालो के साथ शेयर करे।

दीन की बातें दुसरो तक पहुंचना सदका -ए -जारिया है।

जज़्ज़ाकल्लाहुखेर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *