Dua e Qunoot in Hindi (2022)

Dua e qunoot in hindi | Dua e qunoot in hindi tarjuma | Dua e qunoot in english

दुआए क़ुनूत जोकि बहुत ही अफजल दुआ है और इसका अहमियत इससे पता चलती है की दुआ क़ुनूत को वित्र की नमाज़ में पढना वाजिब है आज हम आपको Dua e qunoot in hindi में बताएँगे  

दुआ ए कुनूत पढ़ने के फायदे क्या-क्या हैं ? दुआ ए कुनूत हिंदी में तर्जुमा के साथ, दुआ ए कुनूत के मायने,दुआ ए कुनूत कौन से पारे में है, दुआ ए क़ुनूत कौन सी नमाज़ में पढ़ा जाता हैं |

Dua e Qunoot ki Fazilat

आप को मालूम होगा कि जब ईशा के वक़्त वित्र वाज़िब नमाज़ पढ़ते है तब दुआए क़ुनूत पढ़ी जाती है आप वित्र की तीसरी रकात में सूरह फातिहा और कोई सूरत पढ़ लेते हैं तब आपको रुकू में जाने के बजाये कानों तक हाथ उठाना होता है और फिर हाथ बाँध कर दुआए क़ुनूत पढनी होती है | दुआए क़ुनूत पढना वाजिब है

उबई बिन काब का आप रज़ियल्लाहु अन्हा से बयान है की :

अल्लाह के रसूल सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम वित्र की तीन रक’अत नमाज़ पढ़ा करते थे| पहली रकअत में सब्बी हिस्स्मा रब्बिकल अ’अला दूसरी रकअत में ‘क़ुल या अय्युहल काफ़िरून’ और तीसरी रकअत में ‘क़ुल हुवल्लाहु अ’हद’ पढ़ते थे

और दुआ-ए-क़ुनूत रुकू’अ से पहले पढ़ते थे | फिर जब (वित्र से) फारिग़ हो जाते तो फ़राग़त के वक़्त तीन बार (‘सुब्हानल मलिकिल क़ुद्दूस) कहते| और इनको आख़िर में खींचते|

(सुनन अन नसा’इ , हदीस 1700)

दुआ ए क़ुनूत इन हिंदी | Dua e qunoot in hindi

बिस्मिल्लाहिर रहमानिर रहिम

अल्लाहुम-म इन्ना नस्तईनु-क व नस्तग्फिरु-क व नुउ मिनु बि-क व न-त-वक्कलु अलै-क व नुस्नी अलैकल खै-र व नश्कुरू-क व ला नक्फुरू-क व नख्लउ व नतरूकु मंय्यफजुरू-क. अल्लाहुम-म इय्या-क नअबुदु व ल-क नुसल्ली व नस्जुदु व इलै-क नसआ व नहि्फदु व नर्जू रहम-त-क व नख्शा अजा-ब-क इन-न आजा-ब-क बिल कुफ्फारि मुलहिक. 

ये भी पढ़े:दरूद शरीफ

Dua e qunoot in hindi में वीडियो देखने के लिए निचे इस वीडियो पर क्लिक करे |

Dua e qunoot in hindi tarjuma

यहाँ पर हमने दुआ ए क़ुनूत को और सही से समझने के लिए dua e qunoot in hindi tarjuma के साथ बताया है।

Dua e qunoot in hindi | Dua e qunoot in hindi tarjuma
दुआ ए कुनूत हिंदी में तर्जुमा

शुरु करता हूँ अल्लाह के नाम से जो बड़ा मेहरबान निहायत रहम करने वाला है

इलाही हम तुझ से मदद चाहते है और तुझ से माफ़ी माँगते है और तुझ पर ईमान लाते है और तुझपर भरोसा रखते है और तेरी बहुत अच्छी तारीफ करते है, और तेरा शुक्र करते है और तेरी ना शुक्री नहीं करते है और अलग करते है और छोड़ते है ,

उस शख़्स को जो तेरी नाफरमानी करे, इलाही हम तेरी ही ‘इबादत करते है और तेरे ही लिए नमाज़ पढ़ते है और सज्दा करते है और तेरी ही तरफ दौड़ते और ख़िदमत के लिए हाज़िर होते है और तेरी रहमत के उम्मीद वार है और तेरे अज़ाब से डरते है बेशक तेरा अज़ाब काफिरों को मिलने वाला है|

ये भी पढ़े:- सूरह यासीन

Dua e qunoot in arabic

Dua e qunoot in arabic | Dua e qunoot in english | | Dua e qunoot image
दुआ ए कुनूत अरबी में

Dua e Qunoot In English

  • Allah humma inna nasta-eenoka wa nastaghfiruka wa nu’minu bika wa natawakkalu alaika wa nusni alaikal khair
  • Wa nashkuruka wala nakfuruka wa nakhla-oo wa natruku mai yafjuruka
  • Allah humma iyyaka na’budu wa laka nusalli wa nasjud wa ilaika nas aaa
  • Wa nahfizu wa narju rahma taka wa nakhshaa azaabaka inna azaabaka bil kuffari mulhik. 

ये भी पढ़े :- आयतुल कुर्सी हिंदी में

Dua e qunoot in English translation

Dua e qunoot in arabic | Dua e qunoot image | Dua e qunoot in English
दुआ ए कुनूत इन इंग्लिश

O’ ALLAH! We implore YOU for help and beg forgiveness of YOU and believe in YOU and rely on YOU and praise YOU

and we are thankful to YOU and are not ungrateful to YOU and we alienate and forsake those who disobey YOU

O’ ALLAH! You alone do we worship and for YOU do we pray and prostrate and we betake to please YOU and present ourselves for the service in YOUR cause and

we hope for YOUR mercy and fear YOUR chastisement Undoubtedly, Your torment is going to overtake infidels.

Dua e qunoot in hindi tarjuma भी ज़रूर पढ़ें. अगर आप ऊपर लिखे अरबी आयतों को याद नहीं कर सकते हैं तो कम से कम इस के तर्जुमा को ज़रूर पढ़ें. ताकि आप भी सवाब के हक़दार हो जाए.

जब आपको Dua e qunoot in arabic में याद हो जाए तो किसी जानकार को इसे सुनाएं. ताकि आपका अल्फाज एवं तलफुज सही हो जाए किसी भी दुआ को अरबी में पढ़ना सही और अफ़ज़ल माना जाता है

हमने Dua e qunoot in english में translation किया और दुआ ए कुनूत हिंदी में तर्जुमा भी किया है आप को जिस में आसानी हो समझने में आप दुआ ए कुनूत के बारे में जान ले जिस से आप को Dua e qunoot in hindi पर अमल करने में आसानी हो |

अल्लाह तआला हम सबको कुरान करीम समझ कर पढ़ने वाला और उसपर अमल करने वाला बनाए। अल्लाह तआला हम सबको शिर्क की तमाम शकलों से महफूज़ फरमाए

अमीन

व अखिरू दावाना अलाह्म्दुलिल्लाही रब्बिल आलमीन

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.