Safai Adha Iman Hai

Safai Adha Iman Hai

जैसा की इस्लाम में कहा गया है की Safai Adha Iman Hai इसका मतलब ये है की हमें हमेशा खुद भी साफ़ पाक रहना चाहिए और अपने आस पास भी सफाई रखनी चाहिए।

Paak Karne Ka Tareeqa (2022)

Paak Karne Ka Tareeqa (2022)

जैसा हम सभी जानते है इस्लाम में हर एक चीज़ के कुछ मसले मसाइल होते है जिन्हे हर मुस्लमान मर्द औरत के लिए जानना जरुरी होता है। इस्लाम में पाकि नापाकी भी एक बहुत बड़ा मसला है यहाँ पर हम आपको Paak Karne Ka Tareeqa बता रहे है।

निजासत और उसकी क़िस्में

निजासत और उसकी क़िस्में

इस्लाम एक पाकीज़ा मज़हब है और पाक साफ़ रहने का हुक्म देता है। कोई भी इबादत हम बिना पाक साफ़ हुए नहीं कर सकते। पाक साफ़ रहने के लिए हमे ये भी पता होना चाहिए की गन्दगी यानि Nijasat Aur Uski Kisme क्या है।

इस्तन्जा के मसाइल

इस्तन्जा के मसाइल

नजासत यानी की गन्दगी से पाकी हासिल किए बिना हम वज़ू या ग़ुस्ल मुकम्मल नहीं कर सकते और इसके लिए हमें Istinja ke Masail जानने की जरुरत पड़ती है। बाहर से जिस्म या कपड़े पर लगने वाली निजासत को पाक व साफ़ करने का इस्लामी तरीक़ा इस्तन्जा कहलाता है।